Logic gates in hindi

What is logic gate in hindi

इस आर्टिकल Logic gates in hindi में हम विभिन्न प्रकार के gate, उनके  symbols, operation आदि पर चर्चा करेंगे।  Logic gates बूलियन बीजगणित पर आधारित हैं। बूलियन बीजगणित एक गणितीय लॉजिक प्रणाली है तथा यह सामान्य बीजगणित एवं बाइनरी संख्या प्रणली(binary number system) से भिन्न है । उदाहरणत: बूलियन बीजगणित में 1+1 =1 होता है । बूलियन प्रणली(Boolean system) में से चर राशियों की केवल दो अवस्थाये  true या false होती हैं । इन्हें प्रायः 0 तथा 1 से प्रदर्शित किया जाता है । मुख्य बूलियन operation AND, OR तथा NOT हैं । बूलियन की परिवर्ती राशियाँ इलेक्ट्रॉनिक स्विचिंग परिपर्थों की ON या OFF state से भी प्रदर्शित की जा सकती हैं । बूलियन बीजगणित के नियम इलेक्ट्रॉनिक स्विचों के सहायता से implement किये जाते हैं जिन्हें इलेक्ट्रॉनिक लॉजिक परिपथ (Logic Circuits) कहते हैं।

इस प्रकार बूलियन प्रणाली (Boolean system) में केवल दो राशियाँ 0 तथा 1 होती हैं । प्रत्येक संख्या या तो 0 है अथवा 1 है । इस प्रणाली में कोई भी ऋणात्मक अथवा भिन्नात्मक (fractional) संख्या नही होती है । हम कह सकते हैं कि यदि कोई संख्या X=1 है तब X ≠1 । इसी प्रकार यदि X= 0 है तब X≠1 ।

AND gate in hindi | AND gates

AND gate को प्रदर्शित करने के लिए इलेक्ट्रिक स्विच का प्रयोग किया जा सकता है। नीचे फोटो में दो स्विच A तथा B श्रेणी (series) में कनेक्ट हैं । लैंप केवल तब प्रकाशित होगा जब दोनों स्विच A and B क्लोज(close) होंगे। पहले चित्र में AND gate का इलेक्ट्रॉनिक्स में प्रयोग किया जाने वाला प्रतीक (symbol) प्रदर्शित किया गया है।

and gate

logic gates in hindi

 

AND gate operation in hindi | AND प्रचालन | truth table of AND gate

operation AND चिन्ह (·) द्वारा प्रदर्शित किया जाता है । इसके operation को निम्न प्रकार लिखा जा सकता है ।

A AND B =A·B = Y

इस कथन का अर्थ है कि यदि A true है और B भी true है तब Y भी true होगा । अन्य किसी भी स्थति में Y false होगा । A तथा B के चार विभिन्न संयोजन हो सकते हैं जैसे की नीचे truth table में प्रदर्शित किया गया है। ऐसे तालिका(table) जिसमे सभी संभव परिस्थितियों का परिक्षण किया जाता है तथा यह निर्णय लिया जाता है कि आउटपुट true होगी या false, सत्य तालिका (truth table) कहलाती है। सत्य तालिका से ज्ञात होता है कि जब A तथा B दोनों 1 मतलब true हैं केवल तब ही आउटपुट Y =1 यानि true होगी।

Inputs Output
A B Y=AB
LOW LOW LOW
LOW HIGH LOW
HIGH LOW LOW
HIGH HIGH HIGH

 

Inputs Output
A B Y=AB
0 0 0
0 1 0
1 0 0
1 1 1

AND circuit and its operation | AND gate circuit & operation in hindi | AND परिपथ तथा परिपथ का प्रचालन

नीचे फोटो में एक डायोड AND परिपथ प्रदर्शित किया गया है । इस प्रकार के परिपथ में एक से अधिक इनपुट्स होती हैं । इसमें आउटपुट केवल तब ही प्राप्त होती है जब तीनों इनपुट्स पर एक साथ सिग्नल दिया जाता है । इसी कारण से ऐसा परिपथ AND परिपथ कहलाता है । इसे coincidence circuit भी कहते हैं । जब किसी भी इनपुट पर सिग्नल नही होता है तब डायोड फॉरवर्ड बायस में होंगे तथा  इनमे अत्यधिक चालन (conduction) होगा । डायोड के निम्न प्रतिरोध, उच्च लोड प्रतिरोध Rतथा निम्न स्रोत प्रतिबाधा के कारण यह परिपथ एक क्लाम्पेर(clamper) की भांति कार्य करेगा तथा आउटपुट लगभग ग्राउंड स्तर (0) पर क्लेम्प हो जाएगी ।

जब कोई धनात्मक दिशा में बढती हुई पल्स(positive going pulse) किसी भी इनपुट (माना A) पर दी जाती है तब इसका आयाम (amplitude) power सप्लाई +VCC से अधिक होने पर डायोड D1 को रिवर्स में बायस (reverse bias) कर देती है अतः यह डायोड कंडक्ट नही करेगा । परन्तु D2 तथा D3 डायोड ( जिन पर इनपुट सिग्नल नही हैं ) में अभी भी अत्यधिक चालन (heavy conduction) हो रहा है अतः ये आउटपुट को ग्राउंड स्तर(0) पर ही रखते हैं ।  यदि इनपुट A तथा B पर दी जाती है एवं C पर नही दी जाती है तब D3 में चालन होने के कारण आउटपुट शुन्य स्तर (0) पर ही रहती है।  अतः इस परिपथ से आउटपुट तभी संभव है जब  तीनों इनपुट A , B तथा C पर एक साथ ही इनपुट पल्स दी जाये।

OR Gates in Hindi | OR गेट्स

इलेक्ट्रॉनिक्स परिपथों में प्रयुक्त OR gate का प्रतीक चिह्न(symbol) नीचे फोटो(a ) में प्रदर्शित किया गया है, तथा इसका विद्युत तुल्यांक  परिपथ दुसरे फोटो(b) में प्रदर्शित किया गया है।

or gate symbol

or gate circuit

OR gate Operation in hindi | OR gate का प्रचालन

OR gate operation (OR gate का प्रचालन) चिह्न(+) द्वारा प्रदर्शित किया जाता है। OR gate operation निम्न प्रकार प्रदर्शित किया जा सकता है –

A OR B=A+B=Y

इसका अर्थ है कि यदि A true है और B true है तब Y भी true होगा।

OR Gate Truth Table | Truth Table of OR Gate in hindi | OR gate सत्य तालिका

A एवं B के चार भिन्न संयोजन किये जा सकते हैं । नीचे तालिका में A एवं B के विभिन्न संयोजनों के संगत आउटपुट Y प्रदर्शित की गयी है। सत्य तालिका से ज्ञात होता है कि A अथवा B में से किसी एक के भी true (1) होने पर आउटपुट Y का मान true (1) होता है ।

Inputs Output
A B Y=A+B
0 0 0
0 1 1
1 0 1
 1 1 1

OR Gate Circuit | Circuit of OR Gate in hindi | OR gate का परिपथ

एक OR gate के लिए डायोड परिपथ(OR Gate Circuit) नीचे फोटो में प्रदर्शित किया गया है। परिपथ में दो या दो से अधिक इनपुट्स हो सकती हैं । यह परिपथ किसी एक अथवा सभी इनपुट्स पर सिग्नल देने पर आउटपुट देता है। परिपथ में यदि सभी इनपुट्स शून्य स्तर (0) पर है तब किसी भी डायोड में चालन(conduction) नही होगा । RL में धारा शून्य होगी तथा आउटपुट शून्य होगी ।

Logic gates in hindi

जब किसी इनपुट (A , B अथवा C) पर कोई धनात्मक पल्स प्रयुक्त की जाती है तब संगत (corresponding) डायोड फॉरवर्ड बायस्ड होने के कारण Rमें धारा प्रवाहित होती है तथा इसके अक्रॉस में एक वोल्त्पात होता है जो की परिपथ की आउटपुट है। RL  का मान डायोड के फॉरवर्ड प्रतिरोध के मान से काफी अधिक होने के कारण आउटपुट लगभग इनपुट के बराबर होती है। अतः आउटपुट का मान अधिकतम होने के कारण, अन्य डायोड में conduction होने पर आउटपुट में कोई विशेष प्रभाव नहो होता है । परिपथ की आउटपुट एक डायोड अथवा सभी डायोड में conduction होने पर समान होती है ।

Inclusive OR gate | Inclusive OR gate in hindi

उपर वर्णन किया गया OR gate जिसमे आउटपुट Y=1,  जब दोनों इनपुट A=1 तथा B=1 होते हैं। Inclusive OR gate कहलाता है।

Exclusive OR gate | Exclusive OR gate in hindi

इस gate में आउटपुट Y केवल तब true होती है जब इनपुट A अथवा इनपुट B कोई एक true होती है दोनों नही। Exclusive OR gate का प्रतीक (symbol) तथा सत्य तालिका (truth table) नीचे फोटो में प्रदर्शित किये गए हैं।

Logic gates in hindi

Inputs Output
A B Y=A+B
0 0 0
0 1 1
1 0 1
1 1  0

 

NOT gates in hindi | NOT gate | NOT गेट

NOT gate के operation को एक बार(bar) लगाकर प्रदर्शित किया जाता है जैसे Ā । operation NOT को complementation, negation अथवा inversion भी कहा जाता है । अतः NOT gate को कोम्प्लेमेंट्री परिपथ (complementary circuit) अथवा इन्वेर्टर (invertor) कहते हैं । इस gate में केवल एक इनपुट तथा एक आउटपुट होती है । NOT gate इनपुट को इन्वर्ट या कॉम्प्लीमेंट करता है।

Not gate Truth Table | Truth Table of NOT gate in hindi | NOT gate की सत्य तालिका

NOT gate में यदि इनपुट की state 1 तब आउटपुट की state 0 होगी एवं यदि  इनपुट की state 0 है तब आउटपुट की state 1 होगी । NOT gate की सत्य तालिका ( truth table NOT gate) निम्न प्रकार है ।

Input(A) Output(Y=Ā)
1 0
0 1

 

NOT gate Operation | NOT gate Operation in hindi | NOT gate का प्रचालन

जैसा की ऊपर वर्णन किया गया है कि NOT gate को कॉम्प्लीमेंट्री परिपथ अथवा इन्वेर्टर भी कहते हैं, यह gate इनपुट को इन्वर्ट या कॉम्प्लीमेंट करता है। NOT gate की इनपुट 1 है तो आउटपुट 0 और यदि इनपुट 0 है तो आउटपुट 1 होगी । नीचे  फोटो में बायीं तरफ (a) NOT gate का symbol और फोटो में दायीं तरफ(b) इसका विद्युत तुल्य परिपथ प्रदर्शित किया गया है । जब स्विच A क्लोज्ड होता है अर्थात लॉजिक state 1 में होता है तब बल्ब प्रकाशित नही होता अर्थात state 0 में होता है क्युकी  क्लोज स्विच लैंप को शोर्ट सर्किट करता है । इसी प्रकार स्विच खुला (state 0) होने पर बल्ब प्रकाशित(state 1) होता है ।

Logic gates in hindi

NOT gate के symbol में बबल(bubble) का चिन्ह इनवर्जन (inversion) तथा त्रिभुज का चिन्ह एम्पलीफायर को प्रदर्शित करता है । वृत(bubble)  के चिन्ह का इनवर्जन के रूप में प्रयोग निम्न फोटो में प्रदर्शित किया गया है।

Electronic Circuit for NOT operation | NOT gate का इलेक्ट्रॉनिक परिपथ

नीचे फोटो में NOT operation के लिए एक ट्रांजिस्टर परिपथ प्रदर्शित किया गया है । यह एक सामान्य कॉमन एमिटर एम्पलीफायर परिपथ है जिसकी आउटपुट इनपुट से 180 डिग्री कलाविस्थापित(out of phase) होती है ।

Logic gates in hindi

जब इनपुट पर कोई सिग्नल नही होता है तब कलेक्टर धारा शून्य होती है( क्युकी इस परिपथ में ट्रांजिस्टर को कट ऑफ पर बायस किया जाता है ) अतः परिपथ की आउटपुट, सप्लाई वोल्टेज Vcc (state 1) के बराबर होती है । जब इनपुट पर कोई धनात्मक वर्गाकार तरंग प्रयुक्त की जाती है तब transistor में चालन होता है तथा कलेक्टर पोटेंशियल ग्राउंड स्तर (state 0) पर आ जाता है । इस समय परिपथ की कोई आउटपुट नही होती।

इस प्रकार परिपथ में आउटपुट केवल तब प्राप्त होती है तब इनपुट सिग्नल शून्य होता है । अतः यह NOT परिपथ कहलाते हैं ।

Logic gates in hindi आर्टिकल उन स्टूडेंट को ध्यान में रख कर लिखा गया है जो अंग्रेजी में सहज नही है। आशा करते हैं की logic gates in hindi आर्टिकल आपको पसंद आया होगा । किसी भी प्रकार के सुझाव के लिए आप कमेंट बॉक्स में सादर आमंत्रित हैं ।


ये भी पढ़े